हिंदी शायरी - सोचा था तड़पायेंगे हम उन्हें


हिंदी शायरी - HINDI SHAYARI



  


सोचा था तड़पायेंगे हम उन्हें,
किसी और का नाम लेके जलायेगें उन्हें,
फिर सोचा मैंने उन्हें तड़पाके दर्द मुझको ही होगा,
तो फिर भला किस तरह सताए हम उन्हें।
Socha tha tadapaayenge ham unhen,
Kisee aur ka naam leke jalaayegen unhen,
Phir socha mainne unhen tadapaake dard mujhako hee hoga,
To phir bhala kis tarah satae ham unhen.




Contact form

Send